Astro Product 0

Sampurn Vyaparvriddhi Yantra

Rs. 750

Size : 0

Sampurn Vyaparvriddhi Yantra

Vyapar Vridhi Yantra means a yantra to increase the sale and promotion of business. Sampoorn Vyapar Vridhi Yantra is made of 13 yantras which are helpful in appeasing all planets and ward off the evil effects of malefic planets. It has Vyapar Vridhi Yantra, Sampoorn Mahalaxmi Yantra, Sri Yantra, Geeta Yantra, Navgraha Yantra, Matsya Yantra, Vashikaran Yantra, Baglamukhi Yantra, Sri Laxmi Ganesh Yantra, Vastu Dosh Nivaran Yantra, Durga Beesa Yantra, Kuber Yantra, Kanakdhara Yantra. This is a widely tested yantra in shops, offices and in factories etc., where the business is not up to the expectations. This yantra is best if carved, engraved or written on Gold Plates or Gold Plated Copper plates. After puja of yantra it should be fixed at the place of business or on the shop on Wednesday or Thursday and the following mantra should be recited to boost up the sale.

Mantra: “ॐ श्रीं महालक्ष्मयै नमः” I 

Qty.

Astro Sandesh

23 सितम्बर 2018 आज भाद्रपद महीने के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि, शतभिषा नक्षत्र, शूल योग, गर करण और दिन रविवार है । आज अनन्त चतुर्दशी व्रत और कदली व्रत है I आज पूरे वर्ष की सर्वश्रेष्ठ चतुर्दशी है जिसे अनन्त चतुर्दशी कहते हैं I आज के दिन कोई भी शुभ कर्म करना, किसी भी शुभ वस्तु की खरीदारी करना, भगवान् विष्णु के निमित्त फल, फूल, तुलसीदल आदि पवित्र वस्तुओं का अर्चन करना, उनके निमित्त विष्णु सहस्रनाम आदि का पाठ करना, व्रतादि रखना, किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत करना ये अनन्त- अनन्त गुणा फल देने वाले हैं I अतः आज के दिन अधिक से अधिक भगवान् श्री विष्णु के अनंत नामक स्वरुप का ध्यान करें और “ॐ अनंताय नमः” मन्त्र को बोलते हुए 18 तुलसी पत्र भगवान् विष्णु को अर्पित करें I पापों को जीवन से दूर भागने के लिए और पुण्यों का अर्जन करने के लिय इससे बढ़कर कोई तिथि नहीं है I ...

astromyntra

आपके आज को श्रेष्ठ बनाने की पूजा विधि

17 सितम्बर 2018 आज भाद्रपद महीने के शुक्लपक्ष की अष्टमी तिथि, मूल नक्षत्र, आयुष्मान योग, बव करण और दिन सोमवार है । आज आश्विन संक्रांति, श्रीराधाष्टमी, श्रीमहालक्ष्मी व्रत प्रारम्भ, दधीची जयन्ती और विश्वकर्मा पूजन है I पिछले पक्ष की अष्टमी को भगवान् कृष्ण जी पैदा हुए थे उनकी सेवा के लिए उनसे अद्भुत प्रेम धर्म निभाने के लिए राधा जी भी आज अवतार ले रही हैं I आज के दिन राधाकृष्ण जी की फोटो पर एक संयुक्त माला चढायें, किसी पवित्र मौली आदि धागे से उनको बाँध दें, इससे राधा जी प्रसन्न होंगी और कान्हा जी का आशीर्वाद दिलाएंगी I संभव हो तो कान्हा जी के लिए माखन मिश्री का और राधा जी को केसर युक्त मिठाई का भोग लगायें I भगवान् राधाकृष्ण जी से विशेष प्रेम और स्नेह रखने वाले भक्तगण इस दिन व्रत भी रखते हैं I चूँकि आज से श्रीमहालक्ष्मी व्रत भी प्रारम्भ हो रहे हैं अतः आज के दिन दही में कुछ मीठा जैसे चीनी या मिश्री मिलाकर महालक्ष्मी जी को भोग लगायें और फिर सब लोग 1-1 चम्मच प्रसाद रूप में ग्रहण करें जिससे:- स्त्रियों में सौभाग्य और सौन्दर्य पुरुषों में बल और ऐश्वर्य घर में संतान और संपत्ति बच्चों में बुद्धि और विद्या बेरोजगारों को रोजगार की प्राप्ति होगी ...

astromyntra

आपके आज को श्रेष्ठ बनाने की पूजा विधि

15 सितम्बर 2018 आज भाद्रपद महीने के शुक्लपक्ष की षष्ठी तिथि, अनुराधा नक्षत्र, विष्कुम्भ योग, तैतिल करण और दिन शनिवार है । आज सूर्य षष्ठी व्रत है I आज के दिन 1 तांबे के लौटे में शुद्ध जल, लाल फूल, शक्कर, मौली का 1 टुकड़ा, गेहूं या जौं के 7 दाने डालकर “ॐ भगवते महासूर्याय रोगनाशनाय नमः” इस मंत्र का उच्चारण करते हुए धीरे- धीरे और श्रद्धापूर्वक सूर्य भगवान को जल अर्पित करें। आज के दिन व्रत रखकर संध्याकाल में गेहूं का मीठा अन्न ग्रहण करने से कोढ़ आदि महा भयानक और असाध्य बीमारियाँ भी जीवन से नष्ट होने लगती हैं। रोगी व्यक्तियों को यह व्रत जरूर रखना चाहिए। ...

astromyntra

आपके आज को श्रेष्ठ बनाने की पूजा विधि

14 सितम्बर 2018 आज भाद्रपद महीने के शुक्लपक्ष की पंचमी तिथि, विशाखा नक्षत्र, वैधृति योग, बालव करण और दिन शुक्रवार है । आज ऋषि-पंचमी पर्व और संवत्सरी महापर्व (जैन) है I आज ऋषि पंचमी का पावन दिन है अतः आज के दिन इन दिव्य मन्त्रों से अगस्त्याय नमः पुलस्त्याय नमः भृगवे नमः रैभ्याय नमः च्यवनाय नमः व्यासाय नमः क्रतवे नमः पुलहाय नमः वशिष्ठाय नमः विश्वामित्राय नमः मरीचये नमः गौतमाय नमः शौनकाय नमः मनवे नमः वेदों और पुराणों की रचना करने वाले श्रेष्ठतम ऋषियों का वंदन करें I इससे शास्त्रों में, पुराणों में, वेदों में, आगम अर्थात तंत्र शास्त्र में मानव जीवन के कल्याण के लिए जिन-जिन मन्त्रों का, तंत्रों का, ऋचाओं का इन दिव्य ऋषियों के द्वारा निर्माण किया गया है उन सबका श्रेष्ठतम आशीर्वाद आपको प्राप्त होगा I ...

astromyntra

आपके आज को श्रेष्ठ बनाने की पूजा विधि

12 सितम्बर 2018 आज भाद्रपद महीने के शुक्लपक्ष की तृतीय तिथि, चित्रा नक्षत्र, ब्रह्म योग, गर करण और दिन बुधवार है । आज हरितालिका तृतीया, गौरी तृतीया, श्रीवराह जयन्ती, कलंक चतुर्थी व पत्थर-चौथ है I आज के दिन माँ गौरी का लाल पुष्प, लाल चन्दन, रोली से रंगे चावल, श्रृंगार सामग्री से पूजन करें I इससे बच्चों को भगवान् गणेश सी बुद्धि, बड़ों को स्थिर और उन्नति से परिपूर्ण रोजगार, स्त्रियों को अखण्ड सुहाग और विवाह योग्य बच्चों को उत्तम जीवनसाथी की प्राप्ति होगी I चूँकि आज कलंक चतुर्थी भी है अतः आज के दिन चंद्रमा का दर्शन निषेध है अर्थात चंद्रमा दर्शन की मनाही है I आज के दिन चंद्रमा दर्शन से अपयश की प्राप्ति होती है I ...

astromyntra

आपके आज को श्रेष्ठ बनाने की पूजा विधि